10 मिनट में उड़द दाल और चावल डोसा – Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi – डोसा, एक बहुमुखी और स्वादिष्ट व्यंजन, दक्षिण भारतीय व्यंजनों का एक अभिन्न अंग है। ये डोसा न केवल स्वादिष्ट होते हैं बल्कि कई स्वास्थ्य लाभों से भी भरपूर होते हैं।

डोसा बैटर चावल और दाल के मिश्रण को थोड़ा दही के साथ फर्मेंट करके बनाया जाता है, जिससे एक तीखा और स्वादिष्ट क्रेप बनता है। इस लेख में, हम आपको सिखाएंगे कि उड़द दाल और चावल डोसा कैसे बनाया जाता है और आपकी डोसा बनाने की जानकारी को बेहतर बनाने के लिए कुछ जरुरी पॉइंट्स बताएँगे|

Video दिखाये – (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

उड़द दाल और चावल डोसा विधि – (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

इस ब्लॉग में हम उड़द दाल और चावल डोसा रेसीपी के बारे में पढ़ेंगे, जिसमें सामग्री और विधि के बारे में पूरी जानकारी नीचे दी गयी है|

सामग्री – (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

  • 1 बर्तन
  • 3 कप चावल
  • 1 कप उरद की दाल
  • 1 कप पोहा
  • 1 छोटी चम्मच मेथी दाना
  • स्वाद अनुसार नमक
  • 2 छोटी चम्मच चीनी

विधि – (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

1( डोसा को फरमेंट बनायें :

1 बर्तन में 3 कप चावल लें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

1 कप उरद की दाल लें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

1 छोटी चम्मच मेथी दाना लें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

1 कप पोहा लें, और चारो को मिक्स करके 2 से 3 बार अच्छे से धो लें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

और धोने के बाद 5 से 6 घंटे के लिए पानी में भिगो कर रख दें (जिससे की चारो चीजे फूल जाए)

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

अब भीगे हुए तीनो चीजो में से पानी निकाल कर उसे मिक्सी में पीस लें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

इसमें स्वाद अनुसार नमक डालकर मिक्स कर लें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

इसमें 2 छोटी चम्मच चीनी डालें और मिक्स कर लें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

2( वैकल्पिक : उड़द दाल और चावल डोसा की आलू भाजी रेसिपी :

गैस पर धीमी आंच पर कढ़ाई रखें, उसमें 2 छोटी चम्मच तेल डालें और तेल को गरम होने दें |

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

छोटी चम्मच सरसों के दाने, कुछ करी पत्ते अगर हे तो ,3 – 4 लाल साबुत मिर्च,1 बारीक कटा हुआ प्याज, 2 से 3 हरी मिर्च बारीक कटा हुआ (स्वाद के अनुसार), नमक (स्वाद के अनुसार ) इन सब को भुनने दें जब तक गुलाबी नहीं हो जाता मसाला |

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

इस मसाले में ½ छोटी चम्मच हल्दी डालकर 1-2 मिनट भुनने दें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

उसके बाद हाथों से तोड़े हुए 4 से 5 उबले हुए आलू डालकर, इस मिक्सचर को 4 से 5 मिनट धीमी आंच पर भुनने दें | मिक्सचर में थोड़ी बारीक कटी हुई धनियाँ डालकर मिक्स कर दें अब आपका मसाला डोसा की आलू भुजिया तैयार |

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa
Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

3( डोसा रेसिपी :

गैस को तेज जलाएं और तवा रखें

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

तवे पर ऑयल और पानी के कुछ छींटे मारे और साफ कपड़े से पोंछ ले जिससे दोसा तवा पर चिपके ना

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

अब आग को धीमा कर बैटर को तवे पर डाले

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

फरमेंट को कटोरी से घुमाएं

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

दोसे पर हल्का सा तेल डाल लें, जिससे अच्छे से सीख जाए और तवे पर चिपके ना, धोसे को अच्छे से सेकें, जब तक लाल ना हो जाए

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

(वैकल्पिक) फिर उसके ऊपर आलू भाजी डाल सकते हो, सांभर के साथ डोसे का बेस्ट कॉम्बिनेशन होता है।

Urad Dal Or Chawal Ka Dosa

सांभर बनाने के लिए विधि – देखें

नारियल की चटनी बनाने के लिए विधि – देखें

डाउनलोड रेसिपी – (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

डोसा बनाने लिए कुछ नुस्खे / सुझाव – (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

  • आप चाहे तो डोसा सेक ले और आलू के मसले को अलग से परोस दे
  • मैं एकदम पतले दोसे फैलाता हूँ और उसे एक ही साइड से सेकता हूँ लेकिन अगर आप चाहे तो दोनों तरफ से सेक सकते हैं 
  • बैटर बनाते वक्त बासमती या बारीक़ चावल ना ले
  • बैटर ज्यादा गाढ़ा ना हो| जब भी दूसरा ढोसा बनायंगे तवे पर केवल पानी के छिट्टे मारेंगे 
  • ध्यान रहे कि चावल को पीसने के लिए उड़द की दाल तुलना में कम पानी की आवश्यकता होती है
  • बैटर बनाने के लिए गर्मी में 11 से 12 घंटे, सर्दियों में 23 से 24 घंटे दाल और चावल के पेस्ट को मौसम के अनुसार ढक कर रख दें | दूसरा डोसा फैलाने से पहले तवे पर थोड़ा सा पानी का छींटा मारे और किसी कपड़े या टिशू पेपर से पानी पोंछ लें। इसके बाद ही दूसरा डोसा फैलाएं।
  • डोसा फैलाते समय आंच को धीमा रखें।

डोसा को तवे से चिपकने से रोकने के लिए कुछ पॉइंट है : (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

  1. पहला डोसा बनाने से पहले तवे पर अच्छी से तेल लगा ले
  2. ध्यान रहे की घोल फैलाने से पहले तवा अच्छे से गर्म है | तवा पर्याप्त गर्म है या नहीं उसकी जांच करने के लिए, गरम तवे की सतह पर पानी की कुछ बूंदे छिड़कें और अगर पानी कुछ ही सेकेंड के भीतर सूख जाता है तो  तवा तैयार है |
  3. प्रत्येक डोसा बनाने से पहले साफ़ गीले कपड़े से तवे को साफ कर ले, यह दोसा को तवे से चिपकने से रोकने के लिए जरूरी है |
  4. फर्मेंट किया हुआ डोसा का घोल 3 से 4 दिनों के लिए फ्रिज में रखा जा सकता है | अगर आप फ्रीज में रखे घोल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसे डोसा बनाने के 30 मिनट पहले फ्रीज से बाहर निकाल लें |

निष्कर्ष – (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

उड़द की दाल और चावल का डोसा न केवल स्वादिष्ट होते हैं बल्कि कई स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करते हैं। ये डोसा आपके आहार में प्रोटीन, फाइबर और आवश्यक खनिजों को शामिल करने का एक पौष्टिक तरीका है। इसे बनाकर देखें और कृप्या हमे कमेंट करें, हम आशा करते हे की आपको हमारा लेख अच्छा लगा होगा| कृपया हमें कमेंट में बताइये की आपको डोसा केसा लगा|

FAQs – (Urad Dal Or Chawal Ka Dosa Vidhi In Hindi)

उड़द की दाल डोसा के लिए क्यों इस्तेमाल की जाती है?

उड़द की दाल के कई स्वास्थ्य लाभ हैं जैसे यह पाचन में सहायता करती है क्योंकि यह फाइबर से भरपूर होती है और ऊर्जा को भी बढ़ाती है। यह रक्त शर्करा के स्तर को भी नियंत्रित रखता है और हड्डियों को मजबूत बनाता है। इस डोसे को आप अपनी पसंद की किसी भी चटनी के साथ खा सकते हैं|

1 कटोरी उड़द की दाल में कितना प्रोटीन होता है?

100 ग्राम उड़द की दाल में लगभग 350 कैलोरी और 24 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है|

उड़द की दाल कब नहीं खानी चाहिए?

जिन लोगों को हमेशा अपच की समस्या रहती है, उन्हें तो उड़द की दाल से दूरी बना लेनी चाहिए. बता दें कि यह एक ऐसी दाल है, जो जल्दी पचती नहीं है. जिससे कई बार तो कब्ज, पेट में गैस, ब्लोटिंग, आदि जैसी परेशानी होने लगती है|

Click to rate this post!
[Total: 0 Average: 0]

Leave a comment