10 मिनट में डोसा रेसीपी बाजार जैसा | Dosa Kaise Banta Hai

Dosa Kaise Banta Hai In Hindi –  इस ब्लॉग में जानेंगे | डोसा एक साउथ इंडियन पॉपुलर डिश है, डोसा एक बहुत ही स्वादिष्ट व्यंजन हैं जिसे आप कभी भी किसी भी वक्त खा सकते हैं। यह खाने में काफी हल्का होने के कारण आसानी से बचाया जा सकता है और इसे बनाना भी काफी आसान है। मसाला डोसा में आलू और प्याज मसालेदार का मिक्सचर होता है, जिसे चावल और उड़द दाल के घोल से पतले डोसे के बीच में रखकर परोसा जाता है|

dosa kaise banta hai | dosa kaise banate hain | dosa kaise banate | बाजार जैसा डोसा बनाने की विधि | dosa kaise banate hain dikhao | डोसा कैसे बनाया जाता है | डोसा कैसे बनता है | डोसा कैसे बनाते हैं | dosa kaise banate hai |

इसे ब्रेकफास्ट, ब्रंच, लंच यहां त​क की डिनर में भी बनाकर खा सकते हैं क्योंकि इसे पचाना काफी आसान है साथ यह लो कैलोरी भी होता है।

Table of Contents

Video दिखाये – (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

Dosa Kaise Banta Hai

डोसा कैसे बनता है – (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

डोसा ने दक्षिण भारत को दुनिया के हर पाक  हॉटस्पॉट पर रखा है हम आपको डोसा बनाने के तरीके के बारे में विस्तृत स्टेप बाय स्टेप रेसिपी के साथ दिखाते हैं कि कैसे सही डोसा बनाया जाता है | नीचे हमने Dosa kese banta hai पूरी डिटेल्ड में जानकारी दी है |

सामग्री – (Dosa Kaise Banta Hai Ingredients)

  • ½ एक कटोरी  बिना छिली उड़द की दाल
  • 1½ कटोरी मोटा चावल
  • 4 बड़े चम्मच बेसन
  • 3 से 4 छोटी चम्मच चीनी
  • नमक स्वाद के अनुसार
  • लोहे या नॉन स्टिक तवा
  • तेल
  • 1 टीस्पून सरसों
  • ½ टीस्पून जीरा
  • कुछ करी पत्ते अगर हे तो 

विधि – (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

डोसा को फरमेंट बनायें

½ कटोरी बिना छिली उड़द की दाल ले |

Dosa Kaise Banta Hai

1½ कटोरी मोटे चावल ले |

Dosa Kaise Banta Hai

चावल को अच्छे से बर्तन में धो लें |

Dosa Kaise Banta Hai

उड़द की दाल को अच्छे से बर्तन में धो लें |

Dosa Kaise Banta Hai

चावल और उड़द की दाल को अलग-अलग बर्तनौ में 5 से 6 घंटों के लिए पानी में भिगो दें, जिससे वे फूल जाएं |

Dosa Kaise Banta Hai

चावल और दाल को मिक्सी में अलग-अलग बर्तनों में पीस लें और  दोनों के पेस्ट को मिक्स कर ले |

Dosa Kaise Banta Hai

बैटर बनाने के लिए गर्मी में 11 से 12 घंटे, सर्दियों में 23 से 24 घंटे दाल और चावल के पेस्ट को मौसम के अनुसार ढक कर रख दें |

अब बैटर में 4 बड़े चम्मच बेसन के (अगर आपको क्रिस्पी बनाना हे तो,नहीं तो मत डालना), नमक और 3 से 4 छोटी चम्मच चीनी डाल ले, अगर बैटर पतला है तो उसमें हल्का पानी डालें |

Dosa Kaise Banta Hai

बैटर को 1 से 2 घंटे के लिए फ्रिज में रख दें |

 डोसा की आलू भाजी रेसिपी:

सबसे पहले, एक कडाई में 2 टीस्पून तेल गरम करें और उसमें 1 टीस्पून सरसों, ½ टीस्पून जीरा, 1 टीस्पून चाना दाल, ½ टीस्पून उड़द दाल, चुटकी हींग, 1 सूखे लाल मिर्च और कुछ करी पत्ते डालें। आगे ½ प्याज, 1 हरी मिर्च और 1 इंच अदरक डालें। अच्छी तरह से तलें।

Dosa Kaise Banta Hai

इसके अतिरिक्त ½ टीस्पून हल्दी और ½ टीस्पून नमक डालें। अच्छी तरह से मिलाएं।

Dosa Kaise Banta Hai

अब 3 उबले हुए और मैश किए हुए आलू जोड़ें। अच्छी तरह से मिलाएं।

Dosa Kaise Banta Hai

आंच को बंद करें और 2 टेबलस्पून धनिया और 1 टेबलस्पून नींबू का रस जोड़ें। अंत में, अच्छी तरह से मिलाएं अब आपकी आलू भाजी तैयार हैं।

Dosa Kaise Banta Hai

डोसा रेसिपी:

गैस को तेज जलाएं और तवा रखें

Dosa Kaise Banta Hai

तवे पर ऑयल और पानी के कुछ छींटे मारे और साफ कपड़े से पोंछ ले जिससे दोसा तवा पर चिपके ना

Dosa Kaise Banta Hai

अब आग को धीमा कर बैटर को तवे पर डाले और कटोरी से घुमाएं

Dosa Kaise Banta Hai

दोसे पर हल्का सा तेल डाल लें, जिससे अच्छे से सीख जाए और तवे पर चिपके ना

Dosa Kaise Banta Hai

धोसे को अच्छे से सेकें, जब तक लाल ना हो जाए

सांभर के साथ डोसे का बेस्ट कॉम्बिनेशन होता है। सांभर और नारियल की चटनी के साथ नाश्ते या खाने या डिनर में परोसें

PDF डाउनलोड रेसिपी (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

सांभर विधि – (Sambar Kaise Banate Hain In Hindi)

सामग्री – Ingredients for सांभर

  • तुवर दाल (Tuvar dal) – 1 कप
  • इमली का गूदा (Tamarind pulp) – ¼कप
  • गुड़ पाउडर (Jiggery powder) – 1 कटा हुआ
  • टमाटर (Tomato) – 1 कटा हुआ
  • प्याज (Onion) – 1 कटा हुआ
  • ड्रमस्टिक (Drumsticks) – 2-3
  • नमक (Salt) स्वादअनुसार
  • हल्दी पाउडर (Turmeric) – ¼ छोटा चम्मच।
  • सांभर पाउडर (Sambher powder) – 3 चम्मच।
  • साबुत सूखी लाल मिर्च (chili) – 2-3
  • सरसों के बीज (Mustard seeds) – 1 चम्मच।
  • करी पत्ते (Curry leaves) – 10 पत्ते
  • हींग (Asafoetida) – 1 चुटकी
  • तेल (Oil) – 1 बड़े चम्मच

विधि – (Sambar Banane Ki Vidhi In Hindi)

  1. सबसे पहले हम इमली का गूदा बनाते हैं। हम एक कटोरी में नींबू के आकार की इमली लेते हैं और इसे 20 से 25 मिनट के लिए पानी में डुबोते हैं।
  2. इसके बाद इसे हमारी उंगली से छान लें और इमली का गूदा बनाने के लिए इसे छान लें। इमली का गूदा सांभर का बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है।
  3. अब तुवर दाल को धोकर अच्छी तरह से सूखा लें। कटे हुए सब्जियों, 2 कप पानी, ड्रमस्टिक और कटी हुई प्याज के मिश्रण के साथ कुकर में दाल लें, अब स्वाद अनुसार नमक और हल्दी पाउडर को डालें। दाल और सब्जियों को मध्यम आंच पर 3-4 सीटी आने तक पकाएं। फिर एक कड़ाही में दाल डालें और पानी डालें, जब दाल उबल जाए तो उसमें इमली का गूदा, गुड़ का पाउडर, और सांभर का पाउडर दाल लें और धीमी आंच पर बिना ढके 8 से 10 मिनट तक पकाएं। दाल को गाढ़ा होने तक पकाएं।
  4. अब हम दाल के लिए तड़का बनाते हैं। एक कड़ाही में तेल गरम करें, जब सरसों के दाने पक जाए तब साबुत लाल मिर्च, हींग, करी पत्ता (ताज़ी या सूखी करी पत्तियाँ) डालें और इसे तल लें और सांभर में तड़का डालें।

नारियल चटनी विधि – (Nariyal Ki Chutney Kaise Banate Hain In Hindi)

सामग्री – Ingredients for नारियल चटनी

  • कच्चा नारियल – आधा (छोटे-छोटे टुकड़ों में कटा हुआ)
  • हरा धनिया – आधा कप (मोटा कटा हुआ)
  • हरी मिर्च – 2
  • दही – 1/2 कप
  • नमक – 1/2 छोटी चम्मच से कम

तड़के के लिये

  • तेल – 1 टेबल स्पून
  • राई – 1/4 छोटी चम्मच
  • करी पत्ता – 6-7

विधि – (Nariyal Ki Chutney Banane Ki Vidhi In Hindi)

  1. मिक्सी जार में कच्चा नारियल, हरा धनिया, हरी मिर्च, नमक, दही और 1/4 कप पानी डालकर सभी को बारीक पीस लीजिये.
  2. चटनी को प्याली में निकालिये, जितना गाढ़ा रखना हो उसके हिसाब से पानी और मिलाया जा सकता है.

तड़का लगाइए

  1. छोटी कढ़ाही में तेल डालकर गरम कीजिये|
  2. तेल में राई डालिये. राई कड़कने के बाद|
  3. करी पत्ते डाल दीजिये|
  4. गैस बन्द कर दीजिये |
  5. इस राई के तड़के को चटनी में डालकर मिला दीजिये|
  6. नारियल की चटनी तैयार है|
  7. स्वादिष्ट नारियल की चटनी को इडली, दोसा, वड़ा किसी के साथ भी खाइए |

यह भी देखें – 5 मिनट में चावल डोसा रेसिपी

डोसा का स्वाद – (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

बाहर से कुरकुरा और अंदर से नरम आलू का मसाला और उसकी चटनी लाजवाब

मैसूर मसाला डोसा रेसिपी | Mysore Masala Dosa Kaise Banta Hai

सामग्री –

  • 1 कप उरद की दाल
  • 3 कप चावल (पुनी या सोना मसूरी चावला)
  • 1 छोटी चम्मच मैथी
  • तेल
  • 4 से 5 उबले हुए आलू
  • 1 छोटी चम्मच सरसों के दाने
  • नमक स्वाद के अनुसार
  • लोहे या नॉन स्टिक तवा
  • कुछ करी पत्ते अगर हे तो
  • 3 – 4 लाल साबुत मिर्च
  • 1 बारीक कटा हुआ प्याज
  • 2 से 3 हरी मिर्च बारीक कटा हुआ (स्वाद के अनुसार)
  • ½ छोटी चम्मच हल्दी
  • थोड़ी बारीक कटी हुई धनियाँ

1( विधि –

  1. मैसूर मसाला सादा डोसा को फरमेंट (दाल और चावल का पेस्ट) बनायें
  2. ½ कटोरी बिना छिली उड़द की दाल ले |
  3. उड़द की दाल को अच्छे से बर्तन में धो लें |
  4. 1½ कटोरी मोटे चावल ले |
  5. चावल को अच्छे से बर्तन में धो लें |
  6. चावल और उड़द की दाल के साथ 1 छोटी चम्मच मेथी को अलग-अलग बर्तनौ में 5 से 6 घंटों के लिए पानी में भिगो दें, जिससे वे फूल जाएं और आसानी से हाथ से चावल और दाल के टुकड़े टूट जाएँ |
  7. चावल को आधे कप के पानी के साथ मिक्सी में पीस लें |
  8. दाल को मिक्सी में पीस लें |
  9. दाल और चावल दोनों के पेस्ट को मिक्स कर ले |
  10. बैटर बनाने के लिए गर्मी में 10 से 12 घंटे, सर्दियों में 23 से 24 घंटे दाल और चावल के पेस्ट को मौसम के अनुसार ढक कर रख दें |

 2( मैसूर मसाला डोसा की लाल चटनी बनाने का तरीका

सामग्री

  • 8-10 साबुत लाल मिर्च
  • 2 छोटी चम्मच भुना हुआ चना
  • 7-8 लहसुन की कलियाँ 
  • 1/2 छोटा चम्मच नमक
  • थोड़ा भीगी हुई मिर्च का पानी

विधि –

  1. 8-10 साबुत लाल मिर्च को 1 कप पानी में 2 घंटो के लिए भिगो दें जिससे मिर्च फूल जाये
  2. फूली हुई मिर्च , 2 छोटी चम्मच भुना हुआ चना, 7-8 लहसुन की कलियाँ, आधा छोटा चम्मच नमक (स्वाद के अनुसार), थोड़ा सा भीगी हुई मिर्च का पानी इन सब को मिक्सी में पीसें,
  3. तुम्हारी स्वादिष्ट चटनी तैयार

3( मसाला डोसा की आलू भाजी रेसिपी :

  • गैस पर धीमी आंच पर कढ़ाई रखें
  • उसमें 2 छोटी चम्मच तेल डालें और तेल को गरम होने दें |
  • छोटी चम्मच सरसों के दाने, कुछ करी पत्ते अगर हे तो ,3 – 4 लाल साबुत मिर्च,1 बारीक कटा हुआ प्याज, 2 से 3 हरी मिर्च बारीक कटा हुआ (स्वाद के अनुसार), नमक (स्वाद के अनुसार ) इन सब को भुनने दें जब तक गुलाबी नहीं हो जाता मसाला |
  • इस मसाले में ½ छोटी चम्मच हल्दी डालकर 1-2 मिनट भुनने दें
  • उसके बाद हाथों से तोड़े हुए 4 से 5 उबले हुए आलू डालकर, इस मिक्सचर को 4 से 5 मिनट धीमी आंच पर भुनने दें |
  • मिक्सचर में थोड़ी बारीक कटी हुई धनियाँ डालकर मिक्स कर दें अब आपका मसाला डोसा की आलू भुजिया तैयार |

4( मसाला डोसा रेसिपी:

  • गैस को तेज जलाएं और तवा रखें |
  • तवे पर ऑयल और पानी के कुछ छींटे मारे और साफ कपड़े से पोंछ ले जिससे दोसा तवा पर चिपके ना |
  • अब आग को धीमा कर बैटर को तवे पर डाले और कटोरी से घुमाएं |
  • दोसे पर हल्का सा तेल डाल लें, जिससे अच्छे से सीख जाए और तवे पर चिपके ना |
  • उसके ऊपर लाल चटनी को लगाकर 20 से 30 सेकंड सिकने दें  |
  • फिर उसके ऊपर आलू भाजी डालें |
  • अब फोल्ड कर दें और आपका डोसा तैयार |
  • सांभर के साथ डोसे का बेस्ट कॉम्बिनेशन होता है। सांभर और नारियल की चटनी के साथ नाश्ते या खाने या डिनर में परोसें |

PDF डाउनलोड रेसिपी – (Mysore Masala Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

डोसा बनाने लिए कुछ नुस्खे / सुझाव

  • आप चाहे तो डोसा सेक ले और आलू के मसले को अलग से परोस दे
  • मैं एकदम पतले दोसे फैलाता हूँ और उसे एक ही साइड से सेकता हूँ लेकिन अगर आप चाहे तो दोनों तरफ से सेक सकते हैं 
  • तवे  को हर बार डोसा बनाने के बाद गीले कपड़े से पोहंचे और उसके बाद ही दूसरा डोसा फैलाएं ऐसा करने से डोसा चिपकेगा नहीं।
  • बैटर बनाते वक्त बासमती या बारीक़ चावल ना ले
  • बैटर ज्यादा गाढ़ा ना हो
  • जब भी दूसरा ढोसा बनायंगे तवे पर केवल पानी के छिट्टे मारेंगे 
  • बैटर बनाने के लिए गर्मी में 11 से 12 घंटे, सर्दियों में 23 से 24 घंटे दाल और चावल के पेस्ट को मौसम के अनुसार ढक कर रख दें

डोसा को तवे से चिपकने से रोकने के लिए कुछ पॉइंट है :

  1. पहला डोसा बनाने से पहले तवे पर अच्छी से तेल लगा ले
  2. ध्यान रहे की घोल फैलाने से पहले तवा अच्छे से गर्म है | तवा पर्याप्त गर्म है या नहीं उसकी जांच करने के लिए, गरम तवे की सतह पर पानी की कुछ बूंदे छिड़कें और अगर पानी कुछ ही सेकेंड के भीतर सूख जाता है तो  तवा तैयार है |
  3. प्रत्येक डोसा बनाने से पहले साफ़ गीले कपड़े से तवे को साफ कर ले, यह दोसा को तवे से चिपकने से रोकने के लिए जरूरी है |
  4. फर्मेंट किया हुआ डोसा का घोल 3 से 4 दिनों के लिए फ्रिज में रखा जा सकता है |
  5. अगर आप फ्रीज में रखे घोल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसे डोसा बनाने के 30 मिनट पहले फ्रीज से बाहर निकाल लें|

डोसा क्या है? – Dosa Kya Hai

मसाला डोसा (दक्षिण भारतीय क्रेप्स) पकाने की विधि | दक्षिण भारत में एक डोसा भारतीय है, जिसे क्रेप चावल और दाल के खिलाड़ी के रूप में बनाया जाता है। मसाला डोसा, विशेष रूप से, वह बिंदु है जहाँ आप इसे आलू के साथ लेते हैं, प्याज और मसल्स की हल्की स्टफिंग से पहले। डोसा को आम तौर पर चटनी, सांबर (एक दाल आधारित सब्जी करी), और वैन के वर्गीकरण के साथ प्रस्तुत किया जाता है।

दोसा के प्रकार – dosa ke prakar

समय के साथ, प्रत्येक विशेषताओं और स्वाद के साथ डोसा के कई रूप सामने आए हैं | कुछ लोकप्रिय डोसा किस्मों में शामिल हैं:

  • मसाला डोसा: यह सबसे आम प्रकार का डोसा है, जो मसालेदार आलू मसाला से भरा होता है।
  • रवा डोसा: सूजी (रवा) और चावल के आटे से बना, इस डोसा की बनावट खस्ता है।
  • प्याज डोसा: डोसा बैटर में बारीक कटा हुआ प्याज डाला जाता है, जिससे यह एक स्वादिष्ट क्रंच बन जाता है।
  • पेपर डोसा: यह पतला और क्रिस्पी डोसा पेपर जितना पतला होता है, इसलिए यह नाम पड़ा है।

डोसा पकाने की तकनीक – (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

सॉफ्ट और स्पंजी डोसा – सॉफ्ट और स्पंजी डोसा के लिए बैटर फैलाने के बाद तवे को ढक्कन से ढक दें। यह भाप को फँसाता है और डोसा को समान रूप से पकाने में मदद करता है।

क्रिस्पी डोसा – अगर आप क्रिस्पी डोसा पसंद करते हैं, तो इसे लंबे समय तक पकाएं जब तक कि यह सुनहरा भूरा न हो जाए और क्रिस्पी न हो जाए।

डोसा के स्वास्थ्य लाभ – (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

डोसा न केवल स्वाद को भाता है बल्कि कई स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करता है। उनमें से कुछ ये हैं :

  • कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्रोत: डोसा अपने उच्च कार्बोहाइड्रेट सामग्री के कारण ऊर्जा प्रदान करता है, जिससे यह नाश्ते का एक इस्तेमाल बन जाता है।
  • किण्वित अच्छाई: किण्वन प्रक्रिया पोषक तत्वों की जैव उपलब्धता को बढ़ाती है, डोसा को पचाने में आसान बनाती है और आंतों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है।
  • पोषक तत्वों से भरपूर: चावल और दाल के संयोजन के कारण डोसा बी विटामिन, आयरन और प्रोटीन से भरपूर होता है।

निष्कर्ष – (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

हमें उम्मीद है कि आपको Dosa Kaise Banta Hai के बारे में हमारा पूरा लेख पसंद आया होगा। यह जानकारी हमने कई माध्यमों से जुटाई है। हमारी वेबसाइट सटीकता के संबंध में कोई गारंटी नहीं देती है। जानकारी उपलब्ध होने पर यह परिवर्तन के अधीन है।

FAQ – (Dosa Kaise Banta Hai In Hindi)

डोसा बनाने के लिए क्या क्या लगता है?

डोसा एक मशहूर दक्षिण भारतीय व्यंजन (साउथ इन्डियन रेसिपी) है जो चावल और उड़द की दाल से बनता है और नारियल की चटनी और वेजिटेबल सांभर के साथ परोसा जाता है। यह लोकप्रिय नाश्ता न केवल सेहत के लिए अच्छा है लेकिन बनाने में भी आसान है।

दोसा कौन से देश में खाया जाता है?

मसाला दोसा लोकप्रिय दक्षिण भारतीय दोसा का एक रूप है, जिसकी उत्पत्ति तुलुवा उडुपी व्यंजन कर्नाटक में हुई है। इसे चावल, दाल, आलू, मेथी, घी और करी पत्ते से बनाया जाता है और चटनी और सांबार के साथ परोसा जाता है। यह दक्षिण भारत में लोकप्रिय है। यह देश के अन्य सभी हिस्सों और विदेशों में पाया जा सकता है।

डोसा कितने प्रकार के होते हैं?

डोसा कई तरीके के बनाये जाते है, जैसे सादा डोसा , मसाला डोसा, पेपर डोसा और पनीर डोसा इत्यादि. डोसा और सांबर आप अपने लन्च या डिनर किसी भी खाने या छुट्टी के दिन के नाश्ता में कभी बना कर खा सकते हैं, ये आपको हमेशा पसन्द आयेंगे.

क्या डोसा खाने के लिए अच्छा है?

डोसा न सिर्फ टेस्टी होता है बल्कि हेल्दी भी होता है. क्योंकि इसे दाल और चावल से मिलाकर बनाया जाता है. डोसा पेट के लिए अच्छा माना जाता है ये आसानी से पच जाता है. डोसे को प्रोटीन से भरपूर माना जाता है

डोसा सूखा क्यों होता है?

यह लंबे दाने वाले चावल में एमाइलोज है जो डोसा को उसकी कुरकुरी बनावट देता है – बहुत अधिक , और डोसा सूखा और भंगुर हो जाएगा; पर्याप्त नहीं है, और यह नरम और शिथिल हो जाएगा।

डोसा शाकाहारी हैं?

डोसा शाकाहारी, लस मुक्त और स्वाभाविक रूप से किण्वित भी होते हैं (परंपरा कहती है कि बैटर को हिलाने के लिए अपने हाथ का उपयोग करना किण्वन प्रक्रिया को किकस्टार्ट करने के लिए महत्वपूर्ण है)।

दुनिया का सबसे लंबा डोसा कौन सा है?

शुक्रवार को आईआईटी मद्रास कैंपस में 60 शेफ की टीम ने मिलकर 100 फुट लंबा डोसा बनाया। इस टीम को हेड शेफ विनोथ कुमार कर रहे थे जो पांच बार वर्ल्ड रेकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करवा चुके हैं। 100 फुट लंबे इस डोसे को 37.5 किलो के घोल से तैयार किया गया था।

इडली डोसा में कौन सा जीवाणु पाया जाता है?

लैक्टोबैसिलस ग्राम-पॉजिटिव, एरोटोलरेंट एनारोबेस या माइक्रोएरोफिलिक, रॉड के आकार का, गैर-बीजाणु बनाने वाले बैक्टीरिया का एक जीनस है।

क्या रोज डोसा खाना सेहतमंद है?

डोसा उन लोगों के लिए एक स्वस्थ नाश्ते का विकल्प है, जिन्हें अपने वसा के सेवन पर नियंत्रण रखने की आवश्यकता होती है।
संतृप्त वसा की उच्च मात्रा हृदय रोगों और कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के जोखिम को बढ़ाती है। डोसा में सैचुरेटेड फैट कम होता है, जो उन्हें एक स्वस्थ और सुरक्षित नाश्ता विकल्प बनाता है।

वजन घटाने के लिए कौन सा डोसा सबसे अच्छा है?

वजन घटाने के लिए सादा डोसा और रागी डोसा अच्छे विकल्प हैं। उड़द दाल और चावल के घोल से बना सादा डोसा कैलोरी और वसा में कम होता है। लेकिन, वे प्रोटीन और फाइबर में उच्च होते हैं, जो इसे एक स्वस्थ और भरने वाला विकल्प बनाते हैं।

Click to rate this post!
[Total: 0 Average: 0]

Leave a comment